संघर्ष तो जरूर है

हम दूरदर्शिता से कोसों दूर है,
अपनी अपनी दुनिया में बस मजबूर हैं
फेसबुक पर कुछ कहकर, गिनकर लाइक
मानते है हम मशहूर हैं
मिलेंगे हक हमारे सारे हमें
दिन वो अभी बङी दूर हैं
मिले नही अभी हम अपनों से ही
बेगानों का क्या कूसूर है
मिलकर सारे
हम हुंकारें
दम तो भरपूर है
वानर तो हम सारे हैं
बिना जाम्वंत हारे हैं
लक्ष्य नही असंभव
संघर्ष तो जरूर है
SHARE

Resla Raj

Hi. ’Express you views..

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a Comment